यह हैं भारत के टॉप 10 क्रिकेट दिग्गज, हर मैच में देते हैं बेहतरीन परफॉरमेंस

Posted on

भारत के इलावा बाकी सभी देशों में क्रिकेट प्रेमियों की कोई कमी नहीं है. यह एकमात्र ऐसा खेल है जिसको लेकर हर कोई उतेजित रहता है. ख़ास कर बात अगर पाकिस्तान और इंडिया के मैच की हो हर व्यक्ति टीवी के आगे टिक कर बैठ जाता है. वर्ल्ड कप टूर्नामेंट हो या फिर आईपीएल, क्रिकेट हर किसी के दिल की धड़कन बन चुका है. इसकी मुख्य वजह इसको खेलने वाले खिलाड़ी हैं. आज हम आपको ऐसे ही 10 दिग्गज खिलाडियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने सिक्सेस और चौकों से पूरी दुनिया में अपना नया रिकॉर्ड बना लिया है. आईये जानते हैं इस लिस्ट में पहले नंबर किसका है…

  1. सचिन तेंदुलकर

बात अगर क्रिकेट की करें और सचिन तेंदुलकर का नाम ना आये ऐसा हो ही नहीं सकता. 24 अप्रैल 1973 में जन्मे सचिन तेंदुलकर का नाम, आज दुनिया के ग्रेटेस्ट बल्लेबाजों की लिस्ट में सबसे ऊपर आता है. वह टेस्ट और एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अग्रणी रन बनाने वाले और शतक बनाने वाले बेहतरीन भारतीय क्रिकेटर हैं. सचिन का नाम एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में दोहरा शतक लगाने वाले एकमात्र क्रिकेटर के तौर भी जाना जाता है. सचिन ने छह वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में लगातार खेला है जोकि किसी भी क्रिकेटर के लिए गर्व की बात है. तेंदुलकर पचास टेस्ट शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी हैं, और संयुक्त रूप से सभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पचास शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी हैं; उनके अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 99 शतक हैं. इसलिए हमारी टॉप 10 क्रिकेट खिलाडियों की लिस्ट में सचिन तेंदुलकर का नाम सबसे पहले लेना गलत नहीं होगा.

  1. कपिल देव

कपिल देव का पूरा नाम कपिल देव रामलाल निखंज है. कपिल का जन्म 6 जनवरी 1959 में पंजाब के चंडीगढ़ राज्य में हुआ था. कपिल देव ने वर्ल्ड कप 1983 में भारत को जिताने में अहम योगदान दिया था. उस समय वह भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान थे. कपिल ने पहला वर्ल्ड कप भारत के नाम करके हमारी टॉप 10 दिग्गज क्रिकेट खिलाडियों की लिस्ट में अपना नाम दुसरे नंबर पर ला कर खड़ा कर दिया है. इसके इलावा कपिल ने नेशनल क्रिकेट टीम में बतौर कोच भी काम किया है. वह दाहिने हाथ से खेलने वाले खिलाडी हैं. वह एक स्वाभाविक रूप से आक्रामक खिलाड़ी हैं, उन्होंने अक्सर विपक्षियों पर हमला करके कठिन परिस्थितियों में भारत देश की मदद की है. आज भी कपिल का नाम भारत के स्टार क्रिकेटर्स में सबसे उपर आता है. वह क्रिकेट के इतिहास में एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने 400 से अधिक विकेट लिए हैं और टेस्ट क्रिकेट में 5,000 से अधिक रन बनाए हैं

  1. सुनील गावस्कर

सुनील मनोहर गावस्कर का जन्म 10 जुलाई 1949 में बॉम्बे में हुआ था. उन्होंने 1970 से 1980 के बीच भारतीय टीम के लिए खेला. उनका नाम टेस्ट क्रिकेट में खेलने वाले भारत के सबसे उम्दा ओपनिंग बल्लेबाज़ की लिस्ट में सबसे ऊपर आता है. गावस्कर के नाम ढेरों रन्स और सेंचरीज लेने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है. उन्होंने दिसंबर 2005 में सचिन तेंदुलकर से भी पहले लगभग दो दशकों तक 34 टेस्ट शतकों का रिकॉर्ड अपने नाम किया था. गावस्कर को तेज गेंदबाजी के खिलाफ उनकी तकनीक के लिए व्यापक रूप से सराहा जाता है, उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ शानदार बोल्लिंग की थी जिसका औसत 65.45 का रहा था.

  1. अनिल कुंबले

अनिल कुंबले का जन्म 17 अक्टूबर 1970 को हुआ था. अनिल पूर्व भारतीय क्रिकेटर और भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के कप्तान रह चुके हैं. वह दाएं हाथ के लेग स्पिन (लेग ब्रेक गुगली) गेंदबाज हैं. साथ ही वह बेहतरीन बल्लेबाज भी हैं. उन्होंने वर्तमान में टेस्ट और एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय दोनों मैचों में भारत के लिए अग्रणी विकेट लिए हैं. वर्तमान में वह टेस्ट क्रिकेट में तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज के तौर पर जाने जाते हैं जिन्होंने तीन गेंदबाजों में से 600 से अधिक टेस्ट विकेट लिए हैं.

  1. राहुल द्रविड़

राहुल का जन्म 11 जनवरी 1973 में हुआ था. वह भारतीय राष्ट्रीय टीम में सबसे अनुभवी क्रिकेटरों में से एक हैं, जिसमे से वह 1996 से लेकर अब तक एक नियमित सदस्य हैं. उन्हें अक्टूबर 2005 में भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान नियुक्त किया गया था जिसके बाद उन्होंने सितंबर 2007 में पद से इस्तीफा दे दिया था. द्रविड़ को 2000 वर्ष के पांच विजडन क्रिकेटरों में से एक माना जाता है. उन्हें साल 2004 में आयोजित उद्घाटन पुरस्कार समारोह में आईसीसी प्लेयर ऑफ द ईयर और टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर से भी सम्मानित किया गया था. द्रविड़ के पास वर्तमान में टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक कैच लेने का विश्व रिकॉर्ड है.

  1. सौरव गांगुली

सौरव का पूरा नाम सौरव चांदीदास गांगुली है. उन्हें भारत के सबसे सफल कप्तानों में से गिना जाता है. वह वनडे इंटरनेशनल (ODI) में 5 वें सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं और 10,000 रन के लैंडमार्क को पार करने वाले क्रिकेट इतिहास में 5 वें दिग्गज क्रिकेटर हैं. वह भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे अधिक प्रतिभाशाली, एवं सफल कप्तान रह चुके हैं जिनका नाम सचिन तेंदुलकर के ODI के बाद दुसरे नंबर पर आता है. वर्तमान समय में उनके पास एक दिवसीय बेहतरीन बल्लेबाज़ रिकॉर्ड दर्ज है.

  1. मंसूर अली खान पटौदी

पटौदी का नवाब, यकीनन, भारत का सबसे महान कप्तान था. महज़ 21 वर्ष की उम्र में ही उन्होंने भारतीय टीम की बागडोर को सम्भाल लिया था. लेकिन एक कार दुर्घटना के दौरान उनकी दाहिनी आँख ने हमेशा के लिए काम करना बंद कर दिया. इसके बावजूद भी पटौदी ने कभी हार नहीं मानी और 40 में से ४६ टेस्ट मैचों में भारत का नेतृत्व करके 9 मैचों में जीत दिलवाई. उन्होंने सभी क्रिकेट प्लेयर्स के लिए नई मिसाल पेश की और साबित कर दिखाया कि एक खिलाड़ी के लिए कुछ भी संभव है यदि उसके मन में लग्न और मेहनत का विचार हो. पटौदी ने 1967 में न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ भारत को पहली टेस्ट मैच जीत दिलवाई.

  1. मोहम्मद अजहरुद्दीन

अजहरुद्दीन का जन्म 8 फरवरी 1963 को हुआ था. वह एक कुशल बल्लेबाज थे और 1990 के दशक तक भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी करते थे, जब तक कि एक मैच फिक्सिंग घोटाले में उनकी भागीदारी ने उन्हें सेवानिवृत्ति में मजबूर नहीं कर दिया गया. 1991 में उन्हें विजडन क्रिकेटर ऑफ द ईयर के रूप में नामित किया गया था और कई वर्षों तक अपने एथलेटिक क्षेत्ररक्षण और नेतृत्व के साथ भारतीय टीम में एक प्रेरणादायी व्यक्ति रहे.

  1. विनो मांकड़

मुलवंतराय हिम्मतलाल मांकड़ का जन्म 12 अप्रैल, 1917 को हुआ था. वह एक प्रभावी बल्लेबाज और धीमी गति से बाएं हाथ के ऑर्थोडॉक्स गेंदबाज थे. उन्होंने भारत के लिए 44 टेस्ट मैच खेले और 31.47 की औसत से 2109 रन बनाए, जिसमें 231 के शीर्ष स्कोर के साथ पांच टेस्ट शतक शामिल हैं.

  1. विजय हजारे

विजय सैमुअल हजारे का जन्म 11 मार्च 1915 को हुआ था. उन्होंने साल 1951 से लेकर 1953 तक भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी की. भारत के 25 वें टेस्ट मैच में, भारत द्वारा टेस्ट दर्जा प्राप्त करने के लगभग 20 साल बाद, उन्होंने 1951-52 में मद्रास में इंग्लैंड के खिलाफ अपनी पहली टेस्ट जीत (और उसकी कप्तानी के तहत एकमात्र जीत) हासिल की. इस जीत में उन्होंने मद्रास को 8रनों से हराया था जिसके कारण वह हमारे टॉप 10 क्रिकेट दिग्गज प्लेयर्स की लिस्ट में दसवें नंबर पर आते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *